Curriculum of the Indian Administrative Service

भारतीय प्रशासनिक सेवा का पाठ्यक्रम IAS Exam की तैयारी का महत्वपूर्ण आधार एंव सही रणनीति बनाने में भी सहायक है। भारतीय प्रशासनिक सेवा परीक्षा में सफल होने के लिए IAS पाठ्यक्रम का ज्ञान पूरी तरह से होना अनिवार्य है।
Share it:



भारतीय प्रशासनिक सेवा का पाठ्यक्रम IAS Exam की तैयारी का महत्वपूर्ण आधार एंव सही रणनीति बनाने में भी सहायक है। भारतीय प्रशासनिक सेवा परीक्षा में सफल होने के लिए IAS पाठ्यक्रम का ज्ञान पूरी तरह से होना अनिवार्य है।

.
IAS परिक्षार्थियों को भारतीय प्रशासनिक सेवा के पाठ्यक्रम में छिपे आयामों को जानना बहुत आवश्यक है। इससे IAS परिक्षार्थियों को हर परिपेक्ष में अपना नज़रिया विकसित करने में सरलता का अनुभव होगा। भारतीय प्रशासनिक सेवा के पाठ्यक्रम में दिए गए विभिन्न विषयों का अपना अलग विशेष स्थान है, जिसे जानना IAS परिक्षार्थियों के लिए बहुत ही आवश्यक है।




विषय विभाजन


पाठ्यक्रम विवरण
1. इतिहास
भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, प्राचीन भारतीय इतिहास, मध्यकालीन भारतीय इतिहास, आधुनिक भारतीय इतिहास
2.  भूगोल
भारत एंव विशव भूगोल, प्राकृतिक भूगोल, मानवीय भूगोल, आर्थिक भूगोल
3  भारतीय राज्यतंत्र और शासन 
भरतीय संविधान, राजनैतिक प्रणाली, पंचायती राज लोक नीति अधिकारों सम्बंधी मुद्दे आदि
4  अर्थव्यवस्था
आर्थिक एंव सामाजिक विकास, सतत् विकास गरीबी समावेशन जंसंख्यिकी सामाजिक क्षेत्र में की गई पहल आदि
5  पर्यावरण और पारिस्थितिकीय
पर्यावरण और पारिस्थितिकी के सिद्धांत, जेव-विविधता और मौसम परिवर्तन, सामान्य सिद्धांत सम्बंधी सामान्य मुद्दे, विभिन्न शिखर सम्मेलन
6  सामान्य विज्ञान
भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान और प्रौद्योगिकी, सामान्य सिद्धांत, प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नवीनतम विकास
7  सामयिक घटनाएं
इस में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व के सभी घटनाएं शामिल हैं , सामयिकी ,करंट अफेयर्स विश्लेषण , सभी आयामों के साथ करंट अफेयर्स

भारतीय प्रशासनिक सेवा का पाठ्यक्रम को समझना आईएएस परिक्षार्थियों की पहली प्राथमिकता होनी चाहिए, जिससे उन्हें वर्तमान में घट रहे हर घटनाओं का आंकलण पुर्ण रूप से कर सकें। IAS Exam संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित किया जाता है और पिछले 5 से 6 सालों में कई बदलाव भी किए हैं। इसी बदलाव के तहत IAS प्रारंभिक परीक्षा में सामान्य अध्ययन पेपर एंव द्वितीय (सीसैट) को केवल क्वालिफाइंग (जिसमें केवल 33% अंक की जरूरत है) कर दिया गया है।

Real also:-  Some Important Indian Constitution Articles
.

प्रीलिम्स पेपर 1 का पाठ्यक्रम – (200 अंक)

अवधि: दो घंटे

  •  राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय वर्तमान घटनाएं
  • भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन
  • भारत एंव विश्व भूगोल – भारत और दुनिया का प्राकृतिक, सामाजिक, आर्थिक भूगोल
  • भारतीय राजतंत्र और शासन – संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज, सार्वजनिक नीति, अधिकारों के मुद्दे आदि
  • आर्थिक एंव सामाजिक विकास, सतत टिकने वाला विकास, गरीबी, समावेशन, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र की पहलें आदि
  • पर्यावरण पारिस्थितिकी, जैव-विविधता और जलवायु परिवर्तन पर सामान्य/ज्वलंत मुद्दे
  • सामान्य विज्ञान


प्रीलिम्स पेपर 2 का पाठ्यक्रम – (200 अंक) अवधि: दो घंटे (यह एक क्वालीफाइंग पेपर होगा जिसमें 33% अंक की जरूरत है)
.

  • बोधगम्यता (Comprehension)
  • संचार कौशल सहित अंतर व्यक्तिक कौशल (Interpersonal skills including communication skills) सहित
  • कौशल एंव विश्लेषणात्मक क्षमता (Logical reasoning and analytical ability)
  • निर्णय लेना और समस्या समाधान (Decision making and analytical ability)
  • सामान्य मानसिक योग्यता (General mental ability)
  • आधारभूत संख्यात्मक योग्यता, संख्याएँ और उनमें आपसी-संबंध (numbers and their relations, orders of magnitude, आदि) (दसवीं कक्षा के स्तर का), डेटा इंटरप्रिटेशन (Data interpretation) चार्ट, ग्राफ, टेबल, डेटा पर्याप्तता (data sufficiency) आदि – (दसवीं कक्षा के स्तर का)।
If you like this post please don't forget to share with your friends.

You can join Me On Social Media Sites

Abhishek Ray

Share it:
Reactions:

Career Advice

General Knowledge

UPSC

Post A Comment:

1 comments: